बेरोजगारों की चिंता खत्म, अब हर महीने सरकार देगी बेरोजगारी भत्ता

author image
5:21 pm 17 Apr, 2017


अगर किसी को कोई काम नहीं मिल रहा है, वह बेरोजगार है तो अब ऐसे लोगों की चिंता कुछ हद तक कम होने वाली है। हिमाचल प्रदेश में पहली बार राज्य सरकार बेरोजगारी भत्ता देने जा रही है। ऐसे लोग 15 कॉलम वाला एक फार्म भरकर भत्ता पा सकते हैं। सरकार इनके खाते में हर महीने पैसा जमा करेगी।

जानिए कैसे मिलेगा इस बेरोजगार भत्ते का लाभ:

सबसे पहले आपको इस भत्ते के लिए आवेदन करना होगा। आवेदन करने वाला शख्स कम से कम 12 वीं तक पढ़ा होना चाहिए। आवेदन करने वाला किसी भी कोर्स में रेगुलर छात्र नहीं होना चाहिए।

आवेदक की उम्र 20 से 35 साल के बीच ही होनी चाहिए। सरकारी सेवा से निष्कासित और किसी जुर्म में दोषी पाए जाने वाले बेरोजगारों को इस भत्ते का लाभ नहीं मिलेगा। वहीं आवेदक की आय के जितने भी स्रोत हैं वह दो लाख रुपये से अधिक नहीं होने चाहिए। इसमें पत्नी की आय को भी शामिल किया गया है।

नियम के अनुसार, आवेदन तिथि से एक साल पहले रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत युवा ही बेरोजगारी भत्ते का लाभ ले सकेंगे। यानी जो अब रोजगार कार्यालय में नाम दर्ज करवाएंगे, उन्हें ये भत्ता नहीं मिलेगा। उन्हें भत्ता एक साल बाद मिलेगा। किसी प्राइवेट सेक्टर, सरकारी एजेंसी और खुद के रोजगार के जरिए आय करने वाले लोग भी बेरोजगारी भत्ता पाने के हकदार नहीं होंगे।


बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए युवाओं को हिमाचल प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है। हिमाचल सरकार बेरोजगार युवाओं को प्रतिमाह 1000 रुपए जबकि विकलांगों को 1500 रुपए भत्ता देगी।

हिमाचल प्रदेश के परिवहन मंत्री जीएस बाली ने जानकारी दी कि बेरोजगारी भत्ता लेने के लिए आवेदक को सबसे पहले 15 कॉलम वाला एक सेल्फ डेक्लरेशन फार्म भरना होगा। इस फॉर्म में आपको अपने से जुड़ी कई जानकारी देनी होंगी। यह फॉर्म श्रम एवं रोजगार कार्यालय से मिलेगा।

Discussions



TY News