मध्य प्रदेश में भारी बारिश और बाढ़ से अब तक 8 मरे, भोपाल में सैकड़ों फंसे

author image
5:32 pm 9 Jul, 2016

मध्य प्रदेश में मानसून ने रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। राज्य में में भारी बारिश और बाढ़ से अब तक 8 लोगों की मौत हो गई है। राज्य में अलग-अलग इलाकों में सैकड़ों लोग बाढ़ के पानी में फंसे हुए हैं। वहीं, राजधानी भोपाल के पास समरधा इलाके में एक गांव में करीब 500 से अधिक लोगों के फंसने की खबर मिली है।

इस बीच, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों के साथ आपात बैठक की है और हालात का जायजा लिया है।


अधिकारियों के साथ बैठक के बाद, मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि भारी बारिश की वजह से भोपाल, सागर और रीवा जैसे इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं। उन्होंने कहा कि राज्य के कई इलाकों में पानी का स्तर लगातार बढ़ रहा है।

लागातार हो रही बारिश की वजह से स्कूलों में छुट्टियां घोषित कर दी गई हैं। राज्य के अधिकतर इलाकों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है। नर्मदा नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।

दमोह से मिली खबरों के मुताबिक, यहां के धुनगी नाले में डीजल से भरा हुआ एक टैंकर बह गया। लगातार हो रही बारिश की वजह से यह नाला उफान पर था। पुलिस ने यहां बैरिकेडिंग कर सड़क को बंद कर दिया था।

शुक्रवार की दोपहर पुलिस के हटते ही टैंकर ड्राइवर ने वहां से गाड़ी को निकालना चाहा। देखते ही देखते टैंकर पानी में बहने लगा। भारी मशक्कत के बाद ड्राइवर और कंडक्टर को बचा लिया गया है।

वहीं, सतना जिले में सेना के जवानों ने सरिया गांव में बाढ़ में फंसे तीन सौ लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

Discussions



TY News