घोषित आय से खरीदे गए गोल्ड पर कोई टैक्स नहीं: वित्त मंत्रालय

केन्द्र सरकार ने यह साफ किया है कि अगर घर में गोल्ड की मात्रा आय के हिसाब से है, तो उस पर कोई खतरा नहीं है। गुरुवार को जारी एक बयान में वित्त मंत्रालय ने साफ किया है कि अगर सरकार द्वारा तय सीमा के अंदर घर में सोना रखा गया है, तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

वित्त मंत्रालय ने कहा है कि विवाहित महिला अपने घर में 500 ग्राम तक सोना रख सकती हैं। अविवाहित महिला 250 ग्राम तथा अविवाहित पुरुष 100 ग्राम तक सोना घर में रख सकते हैं। वहीं, यह साफ किया गया है कि पुश्तैनी गहनों पर कोई टैक्स नहीं देना पड़ेगा। ये नियम पहले से लागू हैं। शादीशुदा, गैर-शादीशुदा और पुरुषों द्वारा तय सीमा में सोना रखने का यह नियम पुराना है।

500 और 1000 रुपए के करेन्सी नोट्स पर पाबंदी लगाने के बाद मची अफरा-तफरी के बीच सरकार की यह सफाई सामने आई है। दरअसल, इस तरह की अफवाहें थीं कि लोकसभा में पास हुए नए आईटी बिल के बाद जांच के दायरे में घर में रखा सोना भी आ जाएगा।

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर सोने की खरीद-फरोख्त की खबरें मिली थीं। माना जा रहा है कि जिन लोगों ने नोट की शक्ल में कालाधन छुपा रखा था, उन्होंने सोने की जमकर खरीदारी की है। यही वजह थी कि हाल के दिनों में सोने की खरीदारी में उछाल देखा गया है।

भारत है गोल्ड का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार

भारत दुनिया में गोल्ड का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार है। सरकार का आकलन है कि गोल्‍ड की सालाना मांग का लगभग एक-तिहाई काला धन खपाने में किया जाता है। सोने का उपयोग लोग टैक्स से बचने के लिए करते हैं।

Facebook Discussions