पहली बार अंतरिक्ष में खिला फूल; वैज्ञानिकों की बड़ी कामयाबी पर जश्न का माहौल

author image
2:06 pm 21 Jan, 2016

अंतरिक्ष से एक ऐसी खबर आई है जिससे विज्ञान जगत बाग़बाग हो उठा है। वैज्ञानिक पहली बार स्पेस में फूल खिलाने में सफल हुए है। ऐसा पहली बार हुआ है जब पृथ्वी के वायुमंडल के बाहर अंतरिक्ष में कोई फूल खिला है।

यह कारनामा इंटरनेशनल स्पेश स्टेशन (ISS) में मौजूद वैज्ञानिकों ने कर दिखाया है। जिन्होंने स्पेस स्टेशन के अंदर बनी वेगी लैब में इस फूल को उगाया है। इस फूल को जिन्निया नाम दिया गया है।

ऐसा विज्ञान इतिहास में पहली बार हुआ है जब शून्य गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र में एक फूल सरीखी उम्मीद खिली हो। स्पेस स्टेशन में इस फूल को खिलने में 60 से 80 दिन लगे। यह फूल दिखने में सूरजमुखी के फूल जैसा ही दिखता है।


वैसे तो अंतरिक्ष में वैज्ञानिक पहले भी कई पौधे उगा चुके हैं, लेकिन यह पहली बार है जब किसी पौधे पर फूल खिला हो। गौरतलब है कि 2014 में स्पेस स्टेशन में एक वेगी प्रयोगशाला बनाई गई थी। इस प्रयोगशाला में 2015 में सलाद के तौर पर खाने वाले पौधे उगाए गए थे। ये पौधे स्पेस स्टेशन के अंदर ख़ास उपकरणों में बीजों के ज़रिए उगाए जाते है।

इससे जुड़ा एक खतरा यह ज़रूर है कि इन पौधों पर लगने वाले जीवाणुओं से स्पेस स्टेशन पर मौजूद वैज्ञानिकों को स्वास्थ्य संबंधी खतरा होता है। इसके बावजूद अब वैज्ञानिक अंतरिक्ष में एक ‘स्पेस गार्डन’ बनाने का विचार कर रहे है, जिसमें वह कई तरह के पौधे उगा सकेंगे।

इस कामयाबी से अमरीकी अंतरिक्ष संगठन राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रशासन (NASA) के वैज्ञानिक उत्साहित हैं। अब उनका लक्ष्य 2018 तक स्पेस स्टेशन में टमाटर और कई सब्जियां उगाना है, ताकि स्पेस स्टेशन में मौजूद वैज्ञानिक धरती से आने वाले खाने के राशन पर ही निर्भर न रहें।

Discussions



TY News