पति ने स्पीड पोस्ट से दिया तलाक, न्याय के लिए जाएंगी सुप्रीम कोर्ट

author image
6:00 pm 18 May, 2016

जयपुर की रहने वाली एक युवती ने दावा किया है कि उसके पति ने स्पीड पोस्ट भेजकर उसे तलाक दे दिया है। तीन तलाक के नियम की शिकार 25 वर्षीया आफरीन पति के इस फैसले से आहत है और न्याय के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने पर विचार कर रही है।

आफरीन ने कहा कि पति के इस फैसले के खिलाफ वह सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर करेगी।

समाचार एजेन्सी एएनआई की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि आफरीन की शादी वर्ष 2014 में एक वैवाहिक वेबसाइट की मदद से हुई थी।

आफरीन का आरोप है कि शादी के कुछ ही दिन बाद से ससुराल वालों ने दहेज को लेकर उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था। उसके साथ नियमित तौर पर मारपीट की जाने लगी। इन सबसे तंग आकर वह मायके आ गई।

अब कुछ ही दिन पहले उसके पति ने स्पीड पोस्ट के जरिए उसे तीन तलाक भेज दिया।

गौरतलब है कि तीन तलाक के मसले पर पूरे देश में बहस छिड़ी हुई है। ऑल इन्डिया मुस्लिम वुमन पर्सनल लॉ बोर्ड की अध्यक्ष शाइस्ता अम्बर ने भी तीन तलाक को पूरी तरह खत्म करने की मांग की है।

इस संबंध में एक मामला सर्वोच्च न्यायालय में भी चल रहा है। शायरा बानो नामक एक महिला ने तीन तलाक को खारिज करने की मांग करते हुए मुस्लिम पर्सनल लॉ (शरियत) एप्लीकेशन एक्ट, 1973 के सेक्शन 2 को अदालत में चुनौती दी है। शायरा बानो ने मुस्लिम मैरेज एक्ट, 1939 को भी निरस्त करने की मांग की है।

बानो का कहना है कि यह कानून भारतीय मुस्लिम महिलाओं के लिए ठीक नहीं है।

Discussions



TY News