होटल में लगी थी आग, धोनी ने घबराए खिलाड़ियों को कहा कुछ ऐसा कि आप भी कहेंगे वाह कैप्टन कूल

author image
7:08 pm 17 Mar, 2017

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उनकी झारखंड टीम के खिलाड़ी आग की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। 17 मार्च की सुबह दिल्ली के द्वारका स्थित पांच सितारा ‘वेलकम’ होटल के पिछले हिस्से में आग लग गई थी। उस वक्त धोनी व उनकी टीम होटल में थे।

इस होटल में भारतीय टीम के धोनी और पूरी झारखंड की टीम ठहरी हुई थी। हालांकि, आग की खबर लगते ही धोनी और बाकी खिलाड़ियो को वहां से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। इस घटना के बाद बंगाल के खिलाफ टीम का विजय हजारे ट्रॉफी सेमीफाइनल स्थगित कर दिया गया है।

झारखंड के विकेटकीपर बल्लेबाज इशान किशन ने घटना का जिक्र करते हुए बताया –

“सुबह 6 बजकर 20 मिनट पर क्रिकेटरों ने अपने कमरों के आस-पास धुंए को देखा। कुछ खिलाड़ियों ने सोचा कि ऐसा किसी शॉर्ट सर्किट की वजह से हुआ होगा। कुछ देर बाद खिलाड़ियों को कोच ने मैसेज कर बड़ी आग लगने के बारे में बताया। जब ऐसा हुआ, तब हम जगने वाली ही थे। काफी धुंए के बाद हम मुश्किल से सांस ले पा रहे थे। वहां बिजली नहीं थी और लॉबी में पूरी तरह अंधेरा था। यह बेहद डरावना था।”

जब टीम के अन्य खिलाड़ी आग से बचने की कोशिशों में लगे थे। पूरे स्टाफ में अफरा-तफरी का माहौल था, उस वक्त अपने चित परिचित अंदाज में धोनी ने अपने टीम के खिलाड़ियों को चिंता न करने और शान्ति से काम लेने के लिए कहा।

जहां मैदान में धोनी अपने शांत स्वभाव और चतुर दिमाग से प्रतिद्वंदी टीमों के छक्के छुड़ाने के लिए जाने जाते हैं। वहीं इस बार भी ऐसी परिस्थिति में धोनी ने खुद को शांत बनाते हुए अपने टीम के सभी खिलाड़ियों को मैसेज किया।


इशान किशन कहते हैं-

 “हम बाहर निकलने के लिए दरवाजा नहीं खोज पा रहे थे, तब उन्हें कप्तान धोनी का मैसेज मिला, जिसमें उन्होंने चिंता नहीं करने की बात कही। माही भाई अपने रूम से बाहर आने में असमर्थ थे तब भी उन्होंने ऐसा किया। मैंने इससे पहले ऐसा कहीं नहीं देखा।”

आगे इशान ने बताया कि जब सब खिलाड़ी अपने कमरों से बाहर निकल रहे थे, हमें कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। हर तरफ अंधेरा था। हमें अपना खेल से संबधित सारा जरूरी सामान छोड़ना पड़ा।

आपको बता दे कि इस आग में झारखंड के खिलाड़ियों की किट जल गई। वाकई ऐसी परिस्थिति में भी धोनी ने जो व्यक्तित्व दिखाया है वो काबिले तारीफ है।

Discussions



TY News