छठ पूजा के चक्कर में बुजुर्ग मां का किया यह हाल, पड़ोसियों ने बचाया

12:45 pm 10 Nov, 2016


जिस मां ने अपने अपने परिवार और बच्चों की खुशी के लिए छठ का व्रत करना शुरू किया था, उसी मां को घर में बंद कर परिजन छठ पूजा करने चले गए। वह भी, कुछ घंटों के लिए नहीं, बल्कि कई दिनों के लिए। यह वाकया हुआ है इलाहाबाद में।

1

शहर के खुल्दाबाद थाना क्षेत्र के काला डांडा इलाके में रहने वाले लोगों का ध्यान जब एक मकान से आ रहे शोर पर गया तो उनके आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा। करीब 90 वर्षीया बुजुर्ग महिला को उनके परिजनों ने घर में बंद कर रखा था और वे छठ पूजा मनाने के लिए बिहार के मुजफ्फरपुर चले गए थे। महिला के पुत्र राजू कुमार रेलवे में नौकरी करते हैं और इस वजह से अक्सर घर से बाहर रहते हैं।

यहां उनकी पत्नी पुष्पा देवी, बच्चे और मां साथ रहते हैं। राजू छुट्टी मिलने पर ही घर पहुंच पाते हैं। पुष्पा देवी छठ की पूजा पूरी शिद्दत से मनाती हैं। इस साल भी छठ के अवसर पर पुष्पा देवी अपने बच्चों के साथ 4 नवंबर यानि नहाय- खाय वाले दिन मुजफ्फरपुर चली गईं। उनकी गैरमौजूदगी में बुजुर्ग महिला घर में अकेली रह गईं। उनके बारे में न तो पड़ोसियों को कुछ बताया गया था और न ही उनके लिए कोई व्यवस्था की गई थी।

करीब तीन दिन से बंद बुजुर्ग ने जब शोर मचाया तब जाकर मोहल्लेवालों को इस बात का पता चला। आनन फानन में पुलिस को बुलाया गया और कई ताले तोड़कर उन्हें बाहर निकाला गया। कई दिनों से भूखी बुजुर्ग ने बताया कि वह कई दिनों से घर में बंद पड़ी हैं।


2

इस रिपोर्ट में पुष्पा देवी के हवाले से बताया गया है कि उन्होंने अपनी सास के लिए तीन दिन का खाना रख छोड़ा था।

Source: SUNO

Discussions


TY News