ये फोटो बताते हैं कि मोबाइल आदत नहीं, व्यसन बन गया है।

author image
3:56 pm 27 Sep, 2015

आदत अगर व्यसन बन जाए तो दिक्कत होती है। मोबाइल फोन हमारी जिन्दगी का अभिन्न हिस्सा बन गया है। हम कब इसके आदी हो गए, पता ही नहीं चला। कैमरा, सोशल नेटवर्क, एप्लिकेशन्स से भरे ये डिवायस अब आदत नहीं, व्यसन बनते जा रहे हैं। तकनीकी उठा-पटक के मामले में समाज संभवतः एक संक्रमण के दौर से गुजर रहा है। यह निश्चित तौर पर एक खतरनाक स्थिति है।

अमेरिकी फोटोग्राफर एरिक पिकर्सगिल ने समाज की इस स्थिति पर एक प्रयोग किया है। उन्होंने दैनिक जीवन की तमाम ऐसी फोटो की एक सीरिज पेश की है, जिनमें स्मार्टफोन की मौजूदगी है। हालांकि, मजे की बात यह है कि उन्होंने अपने उन फोटो से स्मार्टफोन को हटा दिया है। दरअसल, एरिक ने यह बताने की कोशिश की है कि समाज स्मार्टफोन का व्यसनी हो गया है। इस प्रोजेक्ट का नाम भी उन्होंने दिया है, रिमूव्ड। तो आइए। इन फोटो की एक झलक लेते हैं।

1. सुबह हो गई मामू।

 

Mobile_Photo_1-compressed

2. तो आज की क्या प्लानिंग है?

 

Mobile_Photo_2-compressed

3. मुझे सोशलाइजिंग पसन्द है।

 

Mobile_Photo_3-compressed

4. ये देख, तेरा गेम यहां भी है।

 


Mobile_Photo_4-compressed

5. हनीमून पर निकलने से पहले सर्च कर लेते हैं।

 

Mobile_Photo_5-compressed

6. भूख तो है, लेकिन सोशल मीडिया की।

 

Mobile_Photo_6-compressed

7. तो भाई, बीयर बार का लोकेशन खोज रहे हो क्या?

 

Mobile_Photo_7-compressed

8. क्या करें यार, होमवर्क भी इन्टरनेट से डाउनलोड करना पड़ता है।

 

Mobile_Photo_8-compressed

फोटोः एरिक पिकर्सगिल

Discussions



TY News