हाथ से खाने के हैं कई फायदे, जानकर हैरान रह जाएंगे आप

3:23 pm November 18, 2016


भारत में हाथ से खाने की परंपरा रही है। भारतीय परंपरा में माना जाता है कि हाथ से भोजन करने के कई फायदे हैं।

हमारा शरीर पांच तत्वों से बना है। धरती, हवा, आकाश, जल व अग्नि। आयुर्वेद के मुताबिक, इन पांच तत्वों में होने वाले असंतुलन की वजह ही बीमारियों का कारण बनता है। हाथ से कौर बनाते वक्त जो मुद्रा बनती है उससे शरीर में पांच तत्वों का संतुलन बरकरार रहता है और ऊर्जा बनी रहती है। हाथ से ग्रहण करने किया जाने वाला भोजन न केवल जल्दी पचता है, बल्कि इससे वजन भी नहीं बढ़ता।

यही वजह है कि अब पश्चिम में भी छुरी-कांटे को छोड़कर लोग हाथ से खाने को प्राथमिकता देने लगे हैं।


हाथों का स्पर्श दिमाग के लिए सबसे प्रगाढ़ संवेदना है। जब भी हम हाथ से खाना खाते हैं और पेट भरता है तो हमारे दिमाग को संतुष्टि मिलती है। इससे न केवल अधिक खाने से बचते हैं, बल्कि वजन भी कम रहता है। इसका फायदा यह है कि पाचन में मदद मिलती है।

खाना आसानी से पचने का एक दूसरा पहलू यह है कि जब भी हम भोजन के अंश को हाथ से उठाते हैं तो इसके स्पर्श से हमारा दिमाग सक्रिय होता है और खाने से पहले ही पेट को पाचन के लिए सक्रिय संकेत देता है।

हाथ से खाना खाने से वजन संतुलित रहता है। हाथ से खाते वक्‍त हमारा ध्‍यान केवल खाने पर होता है। हमारा ध्‍यान इसपर अधिक होता है कि हम क्‍या खा रहे हैं।

हाथ से भोजन ग्रहण करते वक्त हमें जानकारी होती है कि खाना गर्म है या ठंडा। अगर खाना गर्म हो तो स्पर्श से अहसास हो जाता है। इस वजह से मुंह जलने से बच जाता है।

Facebook Discussions