जिहाद की धमकी और पीएम मोदी पर फतवा जारी करने वाले मौलाना इमाम के पद से बर्खास्त

author image
6:46 pm 17 May, 2017

देश में जिहाद छेड़ने की धमकी देने वाले नूर उर रहमान बरकती को टीपू सुल्तान मस्जिद के इमाम पद से बर्खास्त कर दिया गया है। मस्जिद बोर्ड ऑफ ट्रस्टी के प्रमुख शाहज़ादा अनवर अली शाह ने मंगलवार को कहा था कि बरकती को पद से हटा दिया जाएगा। इस संबंध में अधिवक्ताओं के साथ अंतिम चरण की बातचीत चल रही है। शाह ने कहा था कि बरकती के देश विरोधी बयान को बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

केन्द्र सरकार द्वारा सरकारी गाड़ियों से लाल बत्ती हटाए जाने के आदेश दिए जाने के बाद बरकती लगातार मोदी सरकार के खिलाफ उल-जुलूल बयानबाजी कर रहे थे। इससे पहले बरकती तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के सिर के बाल मुंडने पर फतवा जारी किया था। यही नहीं, बड़बोले बरकती ने पाकिस्तानी मूल के कनाडियाई पत्रकार तारेक फतेह को लाइव टीवी शो पर सिर काटने काटने की धमकी दे डाली थी।

बरकती पर आरोप है कि उन्होंने लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उनके बयान से न केवल देश को नुकसान पहुंचा है, बल्कि मुस्लिम समुदाय भी इससे आहत हुआ है।


बरकती पर यह भी आरोप लगे हैं कि उन्होंने अपने निजी कामों और अपने बिजनेस के लिए मस्जिद परिसर का गलत रूप से इस्तेमाल किया है।

गौरतलब है कि बरकती को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का करीबी माना जाता है। बरकती कई बार तृणमूल कांग्रेस की रैलियों में दिखे हैं।

लाल बत्ती के मुद्दे पर बरकती ने यह भी कहा था कि बत्ती नहीं हटाने के लिए उनसे ममता बनर्जी ने ही कहा था।

Discussions



TY News