काम न होने से नाराज डीएम ने रोक दी 176 अधिकारियों की सैलरी

1:07 pm 1 Dec, 2016


समय पर काम न होने से नाराज एक जिलाधिकारी द्वारा जिले के 176 अधिकारियों की सैलरी रोक देने का मामला सामने आया है।

यह घटना हुई है उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में। जिन अधिकारियों की सैलरी रोकी गई है, उनमें एसएसपी सहित कई वरिष्ठ अधिकारी हैं। बरेली के डीएम पंकज यादव ने कहा है कि वह न तो खुद वेतन लेंगे और न ही किसी अन्य के वेतन का भुगतान होने देंगे, क्योंकि कई शिकायतें लंबित पड़ी हैं।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, जिले में काफी समय से कई शिकायतें लंबित पड़ी हैं और उनका निस्तारण नहीं किया जा रहा है। यही वजह है कि डीएम ने कहा है कि जब तक शिकायतों का निपटान नहीं होता, तब तक इनसे संबद्ध अधिकारी अपना वेतन नहीं ले सकते।

डीएम के इस आदेश के बाद प्रशासनिक महकमे में खलबली मच गई है।

पुलिस के अधिकारी जहां गुस्से में हैं, वहीं छोटे-बड़े अधिकारी कलेक्ट्रेट का चक्कर लगा रहे हैं। गौरतलब है कि बरेली में अधिकारियों का वेतन प्रत्येक महीने की 25 से 30 तारीख के बीच उनके खातों में भेज दिया जाता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ।

अधिकारियों को जब इस बात का पता चला कि तो कई अधिकारी डीएम के पास पहुंचे, वहीं कई मुख्य कोषाधिकारी के दफ्तर में। कोषाधिकारी ने अधिकारियों को बताया कि जब तक डीएम आदेश नहीं देंगे, तब तक संबद्ध अधिकारियों का वेतन उनके खातों में नहीं पहुंचेगा।

इस संबंध में डीएम पंकज कुमार ने कहा कि लोग दूरदराज के अलग-अलग इलाकों से शिकायतें लेकर पहुंचते हैं। उन्हें उम्मीद होता है कि शिकायतें दूर की जाएंगी। शिकायतों को दूर करना डीएम तथा अन्य जिलास्तरीय अधिकारियों का दायित्व है।

ऐसा न होने पर शिकायतें ऊपर जाती हैं, वहां से भी संबंधित अफसरों को ही शिकायतें निपटाने के आदेश दिए जाते हैं।

Discussions