अब सियाचिन में मौसम की मार का ऐसे सामना करेंगे सेना के जाबांज, जैकेट रखेगा गर्म

author image
5:45 pm 22 Apr, 2016


अब सियाचिन में भारतीय सेना के जांबाज जवान मौसम की मार का बेहतर तरीके से सामना कर सकेंगे। ISRO के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा द्रव तैयार किया है, जो उन्हें गर्म रखने में मददगार साबित होगा। इस द्रव को सिलिका एरोजेल’ या ‘ब्यू एयर’ का नाम दिया गया है। इसे ISRO के तिरुवनंतपुरम स्थित विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केन्द्र में तैयार किया गया है।

वैज्ञानिक मानते हैं कि ब्यू एयर एक बेहतर थर्मल रेजिस्टेंस है, जिससे निर्मित जैकेट से सेना के जवान ठंड से बच सकेंगे। यह दुनिया का सबसे हल्का द्रव है। यही नहीं, इसे पृथ्वी और अंतरिक्ष दोनों स्थानों पर आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है। बताया गया है कि इसका उपयोग चंद्रयान-2 मिशन में भी किया जाएगा।

यह द्रव इतना कारगर है कि इसे कमरे में खिड़कियों पर पेन्ट कर घर को सर्दी में गर्म और गर्मी में ठंडा रखा जा सकता है।

बताया गया है कि यह एयरोजेल इतना हल्का है कि इसे एक फूल के ऊपरी हिस्से पर भी आसानी से रखा जा सकता है। इसमें 99 फीसदी हवा की मौजूदगी है और इसे पानी से निकालकर बनाया जाता है।


वैज्ञानिकों ने इसे ‘फ्रोजन स्मोक’ नाम भी दिया है।

Discussions





TY News