सैलरी बढ़ने के बाद भी नाखुश हैं केन्द्रीय कर्मचारी, जाएंगे बेमियादी हड़ताल पर

author image
6:01 pm 29 Jun, 2016


7वें वेतन आयोग की सिफारिशों से केन्द्रीय कर्मचारी खुश नहीं है। जी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, 32 लाख केन्द्रीय कर्मचारियों ने अगले 11 जुलाई से बेमियादी हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है।

गौरतलब है कि केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को मंजूरी दे दी है। इससे केन्द्रीय कर्मचारियों की सैलरी में 18 से 30 फीसदी तक का इजाफा हो जाएगा।

सरकार के इस फैसले की वजह से 1 लाख करोड़ रुपए का अतिरक्त खर्च होगा।

हालांकि, इस बढ़ोत्तरी को केन्द्रीय कर्मचारी मामूली बढ़ोत्तरी मान रहे हैं। और यही वजह है कि अब इसके खिलाफ बेमियादी हड़ताल पर जाने की तैयारी हो रही है।


इस रिपोर्ट के मुताबिक, हड़ताल में रेलवे कर्मचारी भी शामिल होंगे। ऐसा 42 साल बाद होने जा रहा है, जब रेलवे कर्मचारी हड़ताल में शामिल होंगे। माना जा रहा है कि केन्द्रीय कर्मियों के हड़ताल पर जाने से कई मंत्रालयों में कामकाज ठप पड़ सकता है। रेल सेवाएं भी प्रभावित हो सकती हैं।

वेतन आयोग ने पिछले साल नवंबर में प्रस्तुत अपनी रिपोर्ट में कनिष्ठ स्तर पर मूल वेतन में 14.27 प्रतिशत की बढ़ोतरी की सिफारिश कर थी, जो पिछले 70 साल में किसी भी केंद्रीय वेतन आयोग द्वारा सुझाई गई न्यूनतम वृद्धि है।

छठे वेतन आयोग ने वेतन भत्तों में 20 प्रतिशत बढ़ोतरी का सिफारिश की थी, जिसे सरकार ने 2008 में लागू करते समय दोगुना कर दिया था।

Popular on the Web

Discussions